Home » Hindi Lyrics » Main Ishq Mein Hoon Song Lyrics in Hindi & English – Radhe Shyam Movie Song

Main Ishq Mein Hoon Song Lyrics in Hindi & English – Radhe Shyam Movie Song

Main Ishq Mein Hoon Song Lyrics penned by Kumaar, music composed by Manan Bhardwaj, and sung by Manan Bhardwaj & Harjot Kaur from Bollywood cinema ‘Radhe Shyam‘.

Main Ishq Mein Hoon Song Credits

Radhe Shyam Hindi Film Release Date – 11th March 2022
DirectorRadha Krishna Kumar
ProducersBhushan Kumar, Vamsi, Pramod, Praseedha
SingersManan Bhardwaj, Harjot Kaur
MusicManan Bhardwaj
LyricsKumaar
Star CastPrabhas, Pooja Hegde
Music Label

Main Ishq Mein Hoon Song Lyrics in English

Mujhko Pata Na Tha
Yeh Ishq Hota Hai Kya
Mujhko Pata Na Tha
Yeh Ishq Hota Hai Kya

Tu Jo Mila Toh
Mila Mujhko Mera Khuda

Tujhse Yeh Doori
Kyun Dil Mera Sahe
Tu Hi Zaroori
Yeh Dil Mera Kahe
Do Hathon Se Milke
Bichhad Jaaye Aise
Lakeerein Hai Kyun

Aise Na Kar Tu Khuda
Main Ishq Mein Hoon
Aise Na Kar Tu Juda
Main Ishq Mein Hoon

Jhuk Ja Zaraa Aasmaan
Main Ishq Mein Hoon
Hone De Mujhse Gunaah
Main Ishq Mein Hoon

Aise Naa Kar Tu Khuda
Main Ishq Mein Hoon
Aise Naa Kar Tu Juda
Main Ishq Mein Hoon

Mujhko Jeene Ki Tune Hi
Toh Di Hai Wajah
Banke Hum Saya Mil Jaana
Tu Har Ik Jahan Haan

Manzil Bhi Tu… Tu Hi Safar
Saath Tere Rehna Magar
Hathon Se Hath
Chhu Ke Bhi Tune
(Chhu Ke Bhi Tune)

Rootha Kyun Mera Khuda
Main Ishq Mein Hoon
Toota Kyun Mera Jahan
Main Ishq Mein Hoon

Jhuk Ja Zaraa Aasmaan
Main Ishq Mein Hoon
Hone De Mujhse Gunaah
Main Ishq Mein Hoon

Aise Naa Kar Tu Khuda
Main Ishq Mein Hoon
Aise Naa Kar Tu Juda
Main Ishq Mein Hoon

Dil Se Maine Bhi Mangi Dua
Mil Jaaye Mujhko Bhi Mera Khuda
Ro Raha Hoon Main
Sunta Nahi Kyun Koyi Khuda

Kaise Karun Main Bayan
Main Ishq Mein Hoon
Kisko Karun Main Bayan
Main Ishq Mein Hoon

Watch मैं इश्क़ में हूँ Video Song


Main Ishq Mein Hoon Song Lyrics in Hindi

मुझको पता ना था
ये इश्क़ होता है क्या
मुझको पता ना था
ये इश्क़ होता है क्या

तू जो मिला तो
मिला मुझको मेरा खुदा

तुझसे ये दूरी क्यों
दिल मेरा सहे
तू ही ज़रूरी
ये दिल मेरा कहे
तो हाथों से मिल के
बिछड़ जाए ऐसे
लकीरें हैं क्यों

ऐसे ना कर तू खुदा
मैं इश्क़ में हूँ
ऐसे ना कर तू जुदा
मैं इश्क़ में हूँ

झुक जा ज़रा आसमां
मैं इश्क़ में हूँ
होने दे मुझसे गुनाह
मैं इश्क़ में हूँ

ऐसे ना कर तू खुदा
मैं इश्क़ में हूँ
ऐसे ना कर तू जुदा
मैं इश्क़ में हूँ

मुझको जीने की
तूने ही तो दी है वजह
बन के हमसाया ले जाना
तू हर एक जगह हाँ

मंज़िल भी तू तू ही सफर
साथ तेरे रहना मगर
हाथों से हाथ छूटे तेरे

रूठा क्यों मेरा खुदा
मैं इश्क़ में हूँ
टूटा क्यों मेरा जहान
मैं इश्क़ में हूँ

झुक जा ज़रा आसमां
मैं इश्क़ में हूँ
होने दे मुझसे गुनाह
मैं इश्क़ में हूँ

ऐसे ना कर तू खुदा
मैं इश्क़ में हूँ
ऐसे ना कर तू जुदा
मैं इश्क़ में हूँ

दिल से मैंने भी
मांगी दुआ
मिल जाए मुझको भी
मेरा ख़ुदा
रो रहा हों मैं सुनता नहीं
क्यों कोई ख़ुदा

कैसे करूँ बयान
मैं इश्क़ में हूँ
किसको करूँ मैं बयान
मैं इश्क़ में हूँ

Scroll to Top